सिंधिया के गढ़ के सारे अध्यक्ष और पार्षद भाजपा में शामिल
India Latest News madhyapradesh Treading

सिंधिया के गढ़ के सारे अध्यक्ष और पार्षद भाजपा में शामिल

October 29th, 2018 at 6:06 am by Yogesh Dwivedi

अशोकनगर मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले ही कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो रहा है। चुनावी साल है तो चंदेरी में राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो चली हुई है। दोनों दल अपनी राजनीतिक रणनीति के तहत चुनावी तैयारियों में जुटे हुए है। कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के करीबी ईसागढ़ नगर परिषद अध्यक्ष भूपेंद्र द्विवेदी बीजेपी में शामिल हो गए । यही नहीं कांग्रेस को सबसे बड़ा झटका तब लगा है जब पूरी पंचायत ही बीजेपी में शामिल हो गई।  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, राज्यसभा सदस्य प्रभात झा एवं मंत्री नरोत्तम मिश्रा की मौजूदगी में भूपेंद्र द्विवेदी सहित नगर पंचायत ईसागढ़ के सभी 11 कांग्रेसी पार्षद भी उनके साथ भाजपा में शामिल हो गये है । इस तरह एक बड़ी घटना यह भी हुई कि अब ईसागढ़ नगर पंचायत पूरी तरह भाजपामयी हो गई है । चुनाव में यहां कुल 4 पार्षद भाजपा के जीते थे। अब यहां  कांग्रेस का कोई पार्षद ही नही बचा, सारे 15 पार्षद भाजपा के हो गए । साथ ही भूपेन्द्र द्विवेदी की पत्नी एवं पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष वंदना द्विवेदी भी इस मौके पर भाजपा में शामिल हो गई है। चुनाव से पहले सिंधिया के लिए यह एक बड़ा झटका है|

आशोकनगर के ईसागढ़ न पा अध्यक्ष भूपेंद्र द्विवेदी अपने कांग्रेस पार्षदों के साथ बीजेपी में शामिल हो गए हैं। वह सिंधिया के बेहद खास मंडली में शामिल में थे। द्विवेदी कांग्रेस से इस बार चंदेरी विधानसभा से टिकट की मांग कर रहे थे। लेकिन उनकी सुनवाई नहीं होने से वह लगातार बीजेपी के संपर्क में बने थे। लिहाजा रविवार देर रात उन्होंने कांग्रेस पार्षदों के साथ बीजेपी का दामन थाम लिया। उनके इस कदम से कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। माना जा रहा है कि भाजपा भूपेन्द्र द्विवेदी को  चंदेरी सीट से विधानसभा का उम्मीदवार बना सकती है। द्विवेदी के भाजपा में शामिल होने की घटना को अशोकनगर जिले और खासकर ज्योतिरादित्य सिंधिया के संसदीय क्षेत्र की एक बड़ी राजनीतिक घटना के तौर पर देखा जा रहा है।

बीते 15 वर्ष से विपक्ष में चल रही कांग्रेस के पास इस इलाके में गिने चुने जन प्रतिनिधि है जो बड़ा जनाधार रखते हैं । उनमें भूपेंद्र द्विवेदी एक है।  कांग्रेस संगठन में यूथ कांग्रेस के जिला अध्यक्ष एवं ब्लाक अध्यक्ष रहने के साथ-साथ ईसागढ़ नगर पंचायत पर बीते 15 वर्षों  से इनका कब्जा है। दो बार खुद भूपेंद्र द्विवेदी एवं एक बार उनकी पत्नी  वंदना इस  सीट से अध्यक्ष चुनी जा चुकी है।इस तरह लगातार तीन बार से यह सीट उनके पास है ।तीनों ही बार बीजेपी सरकार के विरोध के बावजूद यहां द्विवेदी जीतते आ रहे हैं। उल्लेखनीय है कि जिले के इस कद्दावर ब्राह्मण नेता को बीजेपी ने अपने पाले मिलाकर ज्योतिरादित्य सिंधिया को जबरदस्त पटखनी दी है । इस जोड़-तोड़ को बीजेपी  सिंधिया के खिलाफ उयोग करेगी। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2013 में भी कांग्रेस पार्टी ने पहले भूपेंद्र द्विवेदी को आधिकारिक तौर पर कांग्रेस पार्टी की तरफ से चंदेरी विधानसभा का उम्मीदवार घोषित किया था, मगर एन वक्त पर उनका टिकट काटकर यहां से गोपाल सिंह चौहान को चुनाव लड़ा दिया गया था । इस बार  भी भूपेंद्र द्विवेदी  टिकट के लिये दावेदारी कर रहे थे। बीते महीने भर से वह इसके लिए लगातार दिल्ली के चक्कर भी लगा रहे थे ।

Yogesh Dwivedi October 29, 2018 6:06 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *