पद्मा ने थामा कांग्रेस का हाथ, बीजेपी के खिलाफ दिया बड़ा बयान
India Latest News madhyapradesh Treading

पद्मा ने थामा कांग्रेस का हाथ, बीजेपी के खिलाफ दिया बड़ा बयान

September 24th, 2018 at 10:02 am by Yogesh Dwivedi

मध्यप्रदेश में भारीय जनता पार्टी को चुनाव से पहले झटके लगना शुरू हो गए हैं। राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त मध्य प्रदेश समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष और विजयराघवगढ़`से बीजेपी की कद्दावर नेता पदमा शुक्ला ने आखिरकार कांग्रेस का हाथ थाम लिया है। उन्होंने छिंदवाड़ा में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के निवास पर कांग्रेस की सदस्यता ली। उन्होंने दो दर्जन समर्थकों के साथ पार्टी की सदस्यता ली है|  इस दौरान उन्होंने कहा कि विधानसभा टिकट के लिए नहीं कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस को मजबूत करने के लिए शामिल हुई हूं। उन्होंने कहा कि गांधारी बनकर भाजपा में नहीं रहना है|

उनका कहना है कि “पार्टी ऐसे दावेदारों को टिकट देगी जो उनकी विधानसभा के स्थानीय निवासी हो। उन्होंने कहा कि पैराशूट प्रत्याशी का मतलब है बाहर का प्रत्याशी ऐसे उम्मीदवारों को कांग्रेस टिकट नहीं देगी। पद्मा शुक्ला को टिकट देने के सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी इस बारे में कुछ नहीं कह सकते। फिलहाल इस पर कोई विचार नहीं किया गया है।“

 

चुनावी साल में भाजपा को एक बार फिर बडा झटका । विजयराघवगढ़ से बीजेपी की कद्दावर नेता पदमा शुक्ला ने बीजेपी से इस्तीफा दे दिया और अब उन्होंने कांग्रेस से हाथ मिला लिया है ।वर्तमान में पदमा शुक्ला भाजपा की वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष भी है।जो कि राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त का पद भी होता है।पद्मा शुक्ला 2013 के चुनाव में विजयराघवगढ़ विधानसभा से बीजेपी की उम्मीदवार थीं।

 

पदमा शुक्ला के साथ कार्यकर्ताओं के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलों ने भी जोर पकड़ लिया है।सुत्रों की माने तो महाकौशल क्षेत्र के कई दिग्गज नेताओं के कांग्रेस मे सम्पर्क है। उनके इस फैसले से बीजेपी में हड़कंप मच गया है। हालांकि अभी इस मामले में किसी भी नेता का बयान सामने नहीं आया है। पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं का आरोप यह है कि सालों से वे पार्टी में अपने विभिन्न दायित्वों का निर्वाहन करते आ रहे है, बावजूद इसके उन पर लगातार प्रताडना और अत्याचार किया जा रहा है, इसी से क्षुब्ध होकर वे पार्टी की सीनियर लीडर पदमा शुक्ला के साथ अपना भी इस्तीफा दे रहे है।

 

Yogesh Dwivedi September 24, 2018 10:02 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *